गोधन न्याय योजना से जुड़कर समूह की महिलाएं बनें आत्मनिर्भर : कलेक्टर

Posted On:- 2022-07-28




राजनांदगांव (वीएनएस)। जिले के खैरागढ़ विकासखंड के ग्राम पंचायत देवारीभाट में  जिला स्तरीय हरेली महोत्सव का आयोजन किया गया। महोत्सव के माध्यम से छत्तीसगढ़ शासन की महत्वाकांक्षी योजना अंतर्गत आज यहां गौमूत्र खरीदी का शुभारंभ भी किया गया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि खैरागढ़ विधायक यशोदा वर्मा व जिला कलेक्टर डोमन सिंह की विशेष उपस्थिति में हरेली महोत्सव का शुभारंभ हुआ। 

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक यशोदा वर्मा ने कहा कि हरेली तिहार छत्तीसगढ़ की पहली पारंपरिक त्यौहार है। हरेली त्यौहार के माध्यम से हम कृषि उपकरणों की पूजा करते हैं। अपने गाय व गौठान की भी पूजा करते हैं। यह संस्कृति हमें विरासत में मिली है और इसे आगे बढ़ाए रखने का कार्य हम सभी का है। उन्होंने कहा कि राज्य की संस्कृति परंपरा के साथ ही राज्य की खेल प्रतिभा एक समय विलुप्त होने की कगार पर चल पड़ी थी। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसे पुनर्जीवित करने और संजोए रखने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि नई पीढ़ी के युवाओं को हमारी पुरातन संस्कृति और सभ्यता के साथ ही राज्य की खेल प्रतिभा से भी रूबरू होने का अवसर मुहैया हो सका है।

इस अवसर पर कलेक्टर डोमन सिंह ने कहा कि गोधन न्याय योजना राज्य की महत्वाकांक्षी योजना है। इस योजना से प्रदेश के साथ ही जिले के किसान समृद्ध हो रहे हैं। कलेक्टर ने इस अवसर पर समस्त ग्रामवासियों व जिलेवासियों को हरेली त्यौहार की शुभकामनाएं दी। कलेक्टर ने कहा कि जिले के शत प्रतिशत ग्राम पंचायतों में गोधन न्याय योजना का शुभारंभ कर गोबर की खरीदी की जाएगी। जिससे सभी पशुपालक और किसानों को आमदनी अर्जित करने का मजबूत जरिया मिल सके। इसके लिए जिन ग्राम पंचायतों में गौठान का निर्माण नहीं हुआ है, वहां गौठान का निर्माण करने के लिए ग्राम सभा में प्रस्ताव पारित कर प्रतिवेदन दें। प्रतिवेदन प्राप्त होने पर शीघ्र ही वहां गोधन न्याय योजना का शुभारंभ कर गोबर की खरीदी प्रारंभ कर दी जाएगी। कलेक्टर ने कहा कि हरेली उत्सव राज्य की पहली और खेती किसानी से जुड़ा त्यौहार है। उन्होंने कहा कि हम सभी को मिलकर अपने प्राचीन विरासत को संजोए रखने का कार्य करना होगा।

कार्यक्रम की प्रमुख झलकियां :

बच्चों के बीच कुर्सी दौड़, स्लो साइकिल दौड़ का आयोजन किया गया। इस अवसर पर गेड़ी दौड़ का आयोजन किया गया। जिसमें खैरागढ़ के ओएसडी जगदीश सोनकर ने अपना हुनर दिखाकर लोगों का उत्साह वर्धन किया। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ गजेन्द्र ठाकुर, एसडीएम तानकेश्वर प्रसाद साहू, उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ. राजीव देवरस, सहायक संचालक उद्यानिकी राजेश शर्मा, जनपद सीईओ और अन्य अधिकारी उपस्थित थे। महिला व बाल विकास विभाग व गौठान से जुड़ी महिला समूहों के बीच रस्साकशी का खेल आयोजित किया गया। बच्चों की ओर से पारंपरिक छत्तीसगढ़ी लोक नृत्य की प्रस्तुति दी गई। इस अवसर पर गर्भवती माताओं को पोषण टोकरी प्रदाय किया गया। उद्यानिकी विभाग, कृषि विभाग, महिला व बाल विकास विभाग, स्वास्थ्य विभाग की ओर से स्टॉल लगाया गया था। स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोविड-19 टीकाकरण के लिए स्टॉल लगाया।  




Related News
thumb

मुख्यमंत्री से अग्रवाल समाज दुर्ग के प्रतिनिधिमंडल ने की सौजन्य मुल...

मुख्यमंत्री से आज उनके निवास कार्यालय में अग्रवाल समाज दुर्ग के प्रतिनिधिमंडल ने सौजन्य मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री को समाज द्वारा आयो...


thumb

गौठान की महिलाएं बना रही फाईल-फोल्डर, कॉन्फ्रेंस-लेपटॉप बैग, पर्दा

इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय द्वारा रायपुर में 16 एवं 17 अगस्त को आयोजित देशभर के कृषि वैज्ञानिकों की कार्यशाला में केला तना रेशा से बना कान्फ्र...


thumb

मुख्यमंत्री शिक्षा गौरव अलंकरण : शिक्षा दूत, ज्ञान दीप और शिक्षाश्र...

मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुसार प्रतिवर्ष 5 सितम्बर को विकासखण्ड स्तर, जिला स्तर और संभाग स्तर पर ‘मुख्यमंत्री गौरव अलंकरण’ योजना के अंतर्गत शिक्षको...


thumb

कोरोना बुलेटिन : प्रदेश में 285 नए मामले, रायपुर से 28

स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार 16 अगस्त की स्थिति में प्रदेश की पाॅजिटिविटी दर 2.91 प्रतिशत है। आज प्रदेश भर में हुए 9 हजार 791 सैंपलो...


thumb

साइबर अपराधों के प्रति सतर्क करने राजधानी पुलिस ने शुरू किया 'सुनो ...

आम नागरिकों और युवाओं को साइबर अपराधों के प्रति सतर्क करने रायपुर पुलिस ने 'सुनो रायपुर' जागरूकता अभियान की शुरुवात की। 7 दिन तक चलने वाला यह अभिया...


thumb

महिला आयोग की पहल पर बालोद पुलिस ने शिक्षक को हिरासत में लिया

राज्य महिला आयोग द्वारा 1 प्रकरण को स्वतः संज्ञान में लेते हुए एफआईआर दर्ज कर अपराधी को हिरासत में रखा गया है। बालोद जिले के एक स्कूल का था जिसमे आ...