मैं न तो झुकूंगा, और न ही पार्टी छोडूंगा : संजय राउत

Posted On:- 2022-07-31




ईडी ने शिवसेना सांसद को हिरासत में लिया

मुंबई (वीएनएस)। प्रवर्तन निदेशालय ने रविवार को शिवसेना नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत को हिरासत में ले लिया है। महाराष्ट्र के 1000 करोड़ से ज्यादा के पात्रा चॉल जमीन घोटाला मामले में ईडी की टीम संजय राउत से पूछताछ कर रही थी। ईडी ने करीब आठ घंटे की पूछताछ के बाद राउत को हिरासत में लिया है। टीम राउत को लेकर ईडी दफ्तर रवाना हो गई है। अब यहां ईडी संजय राउत से पूछताछ करेगी।

इस दौरान शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि मेरे खिलाफ झूठी कार्रवाई, झूठे सबूत लोगों को मार-पीटकर बनाए जा रहे हैं। ये सिर्फ महाराष्ट्र और शिवसेना को कमजोर करने के लिए है लेकिन महाराष्ट्र और शिवसेना कमजोर नहीं होगी। संजय राउत झुकेगा नहीं और पार्टी भी नहीं छोड़ेगा।

इससे पहले संजय राउत को 27 जुलाई को ईडी ने तलब किया था। हालांकि, वह अधिकारियों के सामने पेश नहीं हुए थे। इसके बाद ईडी के अधिकारी उनके घर पहुंचे। राउत पर जांच में सहयोग न करने का आरोप है। सूत्रों की मानें तो अगर संजय राउत ईडी के सवालों का जवाब नहीं देते हैं, तो उन्हें गिरफ्तार भी किया जा सकता है।

क्या है मामला?
मामला मुंबई के गोरेगांव इलाके में पात्रा चॉल से जुड़ा है। यह महाराष्ट्र हाउसिंग एंड एरिया डेवेलपमेंट अथॉरिटी का भूखंड है। इसमें करीब 1034 करोड़ का घोटाला होने का आरोप है। इस केस में संजय राउत की नौ करोड़ रुपये और राउत की पत्नी वर्षा की दो करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त हो चुकी है। आरोप है कि रीयल एस्टेट कारोबारी प्रवीण राउत ने पात्रा चॉल में रह रहे लोगों से धोखा किया। एक कंस्ट्रक्शन कंपनी को इस भूखंड पर 3000 फ्लैट बनाने का काम मिला था। इनमें से 672 फ्लैट पहले से यहां रहने वालों को देने थे। शेष एमएचएडीए और उक्त कंपनी  को दिए जाने थे, लेकिन वर्ष 2011 में इस विशाल भूखंड के कुछ हिस्सों को दूसरे बिल्डरों को बेच दिया गया था।

कैसे उजागर हुआ?
दरअसल, वर्ष 2020 में महाराष्ट्र में सामने आए पीएमसी बैंक घोटाले की जांच हो रही थी। तभी प्रवीण राउत की उक्त कंस्ट्रक्शन कंपनी का नाम सामने आया था। तब पता चला कि बिल्डर राउत की पत्नी के बैंक खाते से संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत को 55 लाख रुपये का कर्ज दिया गया था। आरोप है कि संजय राउत ने इसी पैसों से दादर में एक फ्लैट खरीदा था। प्रवीण राउत गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड के पूर्व निदेशक हैं।

शिवसेना नेता संजय राउत के आवास के बाहर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात हैं। उनके आवास के बाहर समर्थकों का जमावड़ा लगने लगा है। पात्रा चावल भूमि घोटाला मामले में उनके आवास पर छापेमारी के बाद ईडी ने उन्हें हिरासत में लिया है।

ईडी के अधिकारी शिवसेना नेता संजय राउत को मुंबई में उनके आवासीय परिसरों पर छापेमारी के बाद हिरासत में लेने के बाद अपने साथ ले गए। मौके पर भारी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता मौजूद हैं।



Related News
thumb

भारतीयता मनुष्‍य बनाने की है प्रक्रिया : प्रो. रजनीश कुमार शुक्‍ल

भारतीयता मनुष्‍य बनाने की प्रक्रिया है। भारतीयता पश्‍चाताप जैसी अवधारणा को स्‍वीकार नहीं करती है। भारतीय परंपराएं प्रायश्चित की बात करती है। हमें भ...


thumb

रेलवे ने शुरू की 10 नई एसी ट्रेन, जानें रुट और किराया...

आज पूरा देश में कृष्ण जन्माष्टमी का त्यौहार उल्लास से मना रहा है। इस खुशी को रेलवे की सौगात ने दुगुनी भी कर दी। दरअसल, भारतीय रेलवे अब एसी लोकल ट्...


thumb

एक बार फिर शिक्षक ने 14 साल के छात्र को जमकर पीटा, 2 दांत तोड़े, जां...

इन दिनों राजस्थान शिक्षक और छात्रों के बीच मीरपीट की घटना को लेकर काफी चर्चा में है। पहले एक दलित छात्र को मटका चुने के नाम पर शिक्षक ने खूब पीटा ...


thumb

मनीष सिसोदिया के पक्ष में खड़े सीएम ने जारी किया मोबाइल नंबर...

देश की राजधानी दिल्ली में आम आदमी पार्टी नेता और उपमुख्यमंत्री के घर छापेमारी के बाद मुख्यमंत्री ने मनीष सिसोदिया का बचाव किया है। सिसोदिया के पक्ष...


thumb

सीबीआई की छापेमारी अच्छे प्रदर्शन का इनाम : केजरीवाल

सीबीआई की छापेमारी अच्छे प्रदर्शन का इनाम : केजरीवाल


thumb

2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा के खिलाफ मजबूत विकल्‍प तैयार होगा : ...

2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा के खिलाफ मजबूत विकल्‍प तैयार होगा : अखिलेश यादव