बच्चों को अच्छा संस्कार दें क्योंकि जैसा बीज डालोगे वैसा ही प्रतिफल आपको मिलेगा : साध्वी स्नेहयशा

Posted On:- 2022-07-17




रायपुर (वीएनएस)। माता-पिता के दिए हुए संस्कार ही बच्चों में आते है। यह निर्भर करता है कि बच्चों की परवरिश कैसी की गई है। बच्चों की बुद्धि पैनी हाेती है, उनमें आप जो बीज बोयेंगे, वैसा ही फल आपको देखने काे मिलेगा। भविष्य को देखते हुए आप अपने बच्चों काे अच्छे संस्कार दें। यह बातें शनिवार को न्यू राजेंद्र नगर के मेघ-सीता भवन, महावीर स्वामी जिनालय परिसर में चल रहे चातुर्मासिक प्रवचन के दौरान साध्वी स्नेहयशा ने कही।

साध्वी स्नेयहशा ने कहा कि बहुत पहले की बात है, एक श्राविका रोज पूजा-अर्चना करने के लिए मंदिर जाती थी। पानी-बरसात का समय था, उस समय ऐसे सीमेंट और डामर वाले रोड नहीं हुआ करते थे। अब वह फंस गई। घर में पूजा नहीं हो सकती थी, वह पूजन की पुस्तकें मंदिर में ही रखती थीं। तक उसे परेशान होता देख उसने पुत्र ने कहा कि क्या हुआ, इतनी उदास दिख रही हो मां। तक उसने पूरी बात बताई। इस पर पुत्र ने कहा कि तो क्या हुआ, मैं आपको भक्तावन का पाठ पढ़ कर सुना देता हूं। ढ़ाई साल की उम्र का बच्चा अपनी मां से यह कह रहा है। मां ने पूछा तुझे किसने सिखाया, उसने कहा आप रोज बोलते हो और मैं रोज सुनता हूं। मुझे पूरा याद है। आज आप मेरे से सुन लो। मां ने कहा कि चल सुना, उसने बिना रूके, बिना अटके पूरा पाठ सुना दिया। अब आप साेचिए कि उस बच्चे की बुद्धि  कितनी पैनी थीं। उसमें जैसा बीज बोया गया था, वैसा ही फल माता-पिता को मिला।  

जैसी दृष्टि, वैसी सृष्टि :
‘जैसी नजर वैसा ही नजारा’ वाक्य का अर्थ बताते हुए साध्वीश्री स्नेहयशा ने बताया कि महाभारत काल की बात है। एक बार भगवान कृष्ण ने युधिष्ठिर और दुर्याेधन को बुलाया। दोनों को पुस्तिका और कलम देकर कहा कि तुम दोनों नगर में जाओ और दुर्जन और सज्जन व्यक्तियों का नाम लिखकर लाओ। युधिष्ठिर को दुर्जन और दुर्याेधन को सज्जन व्यक्तियों का नाम लिखकर लाने को कहा गया। दोनों नगर में गए और अपना काम शुरु कर दिया। पूरी द्वारिका घूम कर जब वे लौटे तो भगवान कृष्ण ने कहा कि दोनों अपनी सूची दिखाओ। युधिष्ठिर ने जब अपनी पुस्तिका दी तो उसमें एक भी नाम नहीं था। भगवान ने सोचा कि युधिष्ठिर की पुस्तिका भरी होगी, पर उसमें एक भी नाम नहीं था।

उन्होंने पूछा यह कैसे हो सकता है। फिर उन्होंने दुर्याेधन से कहा कि अब तुम्हारी पुस्तिका तो पूरी तरह भर चुकी होगी। दुर्याेधन ने अपनी पुस्तिका दिखाई, पहले से लेकर आखिरी पन्ने तक देखने पर उसमें भी एक नाम नहीं था। उन्होंने देखा कि दोनों ने कोई नाम नहीं लिखा है। तो उन्होंने कहा कि क्या तुम दोनों ने अपना काम नहीं किया, नगर में घूमे नहीं क्या। जवाब में युधिष्ठिर ने बताया कि मुझे जो व्यक्ति दुर्जन लगा मैं उसके पास गया तो उसमें मुझे सज्जनता के दर्शन हो गए। मुझे लगा कि मैं इसका नाम कैसे लिखूं, हो सकता है इसमें 99 दोष होंगे पर उसके एक अच्छाई ने उसके 99 दोषों को ढंक दिया। वैसे ही दुर्याेधन ने कहा कि मैं जिस सज्जन व्यक्ति के पास गया और उसमें मुझे थोड़ी सी दुर्जनता दिखाई दी, तो मैंने उसका नाम नहीं लिखा। भले ही उसने 99 अच्छे काम किए हो, पर उसके एक बुरा काम उसके 99 अच्छाई पर भारी पड़े। साध्वीजी ने कहा कि अब नजर को देखो, जैसी नजर वैसा ही नजारा। यह दृष्टि का दोष है, हमारी दृष्टि को ही पीलिया हो गया। हमें हरा-भरा बगीचा भी दिखाया तो सभी पत्ते पीले ही दिखाई देते हैं।



Related News
thumb

किराना कारोबारी ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा...

खमतराई थाना क्षेत्र के उरकुरा में एक किराना कारोबारी ने ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर मौके में पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भ...


thumb

ग्रामीणों के खातों में सट्टे की रकम का लेनदेन, बैंक प्रबंधक समेत 4 ...

रायगढ़ पुलिस ने महादेव सट्टा व लोटस ऐप में पैसों के अवैध लेन-देन के लिए ग्रामीणों को गुमराह कर उनके बैंक अकाउंट का आपराधिक दुरुपयोग करने पर गिरोह क...


thumb

नवीन कानूनों के प्रचार-प्रसार के लिए कार्ययोजना टीम गठित

1 जुलाई से देश में तीन महत्वपूूर्ण कानून क्रमशः भारतीय नागरिक सुरक्षा संहिता, 2023 भारतीय न्याय संहिता, 2023 एवं भारतीय साक्ष्य अधिनियम, 2023 प्रभा...


thumb

कलेक्टर ने राज्य सेवा मुख्य परीक्षा सेंटर का किया निरीक्षण

कलेक्टर विजय दयाराम के. ने लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित राज्य सेवा मुख्य परीक्षा-2023 के लिए शासकीय काकतीय महाविद्यालय में बनाए गए परीक्षा सेंटर का...


thumb

ग्राम बहरमुड़ा में उल्टी-दस्त के रोकथाम के लिए प्राथमिक स्कूल में बन...

कलेक्टर जनमेजय महोबे रविवार को कवर्धा विकासखण्ड के ग्राम बरहमुड़ा में उल्टी-दस्त से प्रभावित ग्रामीणों को स्वास्थ्य सुधार की जानकारी लेने पहुंचे। उन...


thumb

बारिश में भींगते हुए हितग्राहियों के घर पहुंचे डिप्टी सीएम शर्मा, स...

उपमुख्यमंत्री विजय शर्मा रविवार को कवर्धा नगर पालिका क्षेत्र वार्ड क्रमांक 16 के पाली पारा पहुचे। उप मुख्यमंत्री शर्मा ने बरसात में वार्ड के निवासि...