सफलता की कहानी : बिहान कैफेटेरिया संचालन कर आर्थिक रूप से सुदृढ़ हो रही समूह की महिलाएं

Posted On:- 2022-07-29




महासमुंद (वीएनएस)। शासन की महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक बिहान योजना की ओर से जिले के ग्रामीण अंचलों में महिला सशक्तीकरण के लिए महिलाओं को समूह से जोड़कर पारम्परिक गतिविधियों के अलावा अन्य रोजगार मूलक गतिविधियों से जुड़ने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इसी तारतम्य में विकासखंड महासमुन्द के जय मां चंडी महिला स्व-सहायता समूह, ग्राम खैरा के सदस्यों की ओर से आजीविका गतिविधि के रूप में बिहान कैफेटेरिया की शुरूआत अगस्त 2021 से किया गया है।

समूह की सदस्यों की ओर से बताया गया कि वर्ष जनवरी 2021 में जय मां चंडी महिला स्व-सहायता समूह ग्राम-खैरा का गठन छ.ग. राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान के तहत किया गया। जिसमें समूह सदस्यों की ओर से आपसी बचत के माध्यम से व योजना के द्वारा सामुदायिक निवेश कोष की राशि को मिलाकर बिहान कैफेटेरिया का संचालन जिला पंचायत कार्यालय महासमुन्द में चाय, नास्ता, छत्तीसगढ़ी व्यंजन, भोजन आदि बनाने का कार्य प्रारम्भ किया। जिला पंचायत महासमुन्द कार्यालय में प्रतिदिन आने वाले आम-जन, शासकीय अधिकारी-कमर्चारी को भोज्य सामग्री बिहान कैफेटेरिया के माध्यम से आसानी से उपलब्ध हो रहा है। बिहान कैफेटेरिया के आस-पास अन्य शासकीय कार्यालय जैस-जिला व सत्र न्यायालय, महिला एवं बाल विकास विभाग, पुलिस अधीक्षक कार्यालय, कलेक्टर कार्यालय सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी भी बिहान कैफेटेरिया में आकर विशेषत: छत्तीसगढ़ी व्यंजन का आनंद लेते है। जिसमें चिला, फरा, ठेठरी, खुर्मी, अईरसा, सलौनी, मूंग/उडदबड़ा, साबुदाना बड़ा इत्यादि शामिल है। इसके अतिरिक्त जिला कार्यालय में आयोजित होने वाले बैठक, कायर्शाला, प्रशिक्षण इत्यादि में चाय, नाश्ता व भोजन का आर्डर बिहान कैफेटेरिया के माध्यम से पूर्ति की जाती है।

बिहान कैफेटेरिया के संचालक जय मां चंडी महिला स्व-सहायता समूह की अध्यक्ष राधा साहू ने बताया कि लगभग एक वर्ष से संचालित बिहान कैफेटेरिया के माध्यम से समूह की ओर से लगभग 5 लाख रुपए तक का विक्रय कर चुके है। जिससे सदस्यों को आर्थिक रूप से अपने परिवार में सहयोग करने का अवसर प्राप्त हुआ है। बिहान योजना के माध्यम से व जिला पंचायत महासमुन्द कार्यालय की ओर से बिहान कैफेटेरिया के संचालन के लिए भवन, बिजली व फर्नीचर की व्यवस्था किया गया है, जिसके लिए समूह के सभी सदस्यों की ओर से जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया है तथा समूह से जुड़े सदस्यों की ओर से बिहान योजना से जुड़ने के पश्चात आजीविका के रूप में कैफेटेरिया संचालन का कार्य मिलने से खुशी जाहिर किया हैं।




Related News
thumb

मुख्यमंत्री से अग्रवाल समाज दुर्ग के प्रतिनिधिमंडल ने की सौजन्य मुल...

मुख्यमंत्री से आज उनके निवास कार्यालय में अग्रवाल समाज दुर्ग के प्रतिनिधिमंडल ने सौजन्य मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री को समाज द्वारा आयो...


thumb

गौठान की महिलाएं बना रही फाईल-फोल्डर, कॉन्फ्रेंस-लेपटॉप बैग, पर्दा

इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय द्वारा रायपुर में 16 एवं 17 अगस्त को आयोजित देशभर के कृषि वैज्ञानिकों की कार्यशाला में केला तना रेशा से बना कान्फ्र...


thumb

मुख्यमंत्री शिक्षा गौरव अलंकरण : शिक्षा दूत, ज्ञान दीप और शिक्षाश्र...

मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुसार प्रतिवर्ष 5 सितम्बर को विकासखण्ड स्तर, जिला स्तर और संभाग स्तर पर ‘मुख्यमंत्री गौरव अलंकरण’ योजना के अंतर्गत शिक्षको...


thumb

कोरोना बुलेटिन : प्रदेश में 285 नए मामले, रायपुर से 28

स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार 16 अगस्त की स्थिति में प्रदेश की पाॅजिटिविटी दर 2.91 प्रतिशत है। आज प्रदेश भर में हुए 9 हजार 791 सैंपलो...


thumb

साइबर अपराधों के प्रति सतर्क करने राजधानी पुलिस ने शुरू किया 'सुनो ...

आम नागरिकों और युवाओं को साइबर अपराधों के प्रति सतर्क करने रायपुर पुलिस ने 'सुनो रायपुर' जागरूकता अभियान की शुरुवात की। 7 दिन तक चलने वाला यह अभिया...


thumb

महिला आयोग की पहल पर बालोद पुलिस ने शिक्षक को हिरासत में लिया

राज्य महिला आयोग द्वारा 1 प्रकरण को स्वतः संज्ञान में लेते हुए एफआईआर दर्ज कर अपराधी को हिरासत में रखा गया है। बालोद जिले के एक स्कूल का था जिसमे आ...