लंबे समय से बाधित स्वास्थ्य सेवाओं को पुनः सुचारू करने पर जोर

Posted On:- 2022-07-28




कवर्धा (वीएनएस)।  लोगों को सहजतापूर्वक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए जिले में लगातार प्रयास किया जा रहा है। विशेषकर दूरस्थ वनांचल के उप स्वास्थ्य केंद्रों में लंबे समय से बाधित स्वास्थ्य सेवाओं को शिविर लगाकर तथा स्टॉफ भेजकर पुनः सुचारू किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम स्वास्थ्य सेवा तुहंर दुआरी के माध्यम से भी गांव-गांव पहुंच रही है, जिससे लोग अब राहत की सांस ले रहे हैं।

गांव में शिविर लगाकर तथा स्टॉफ भेजकर कार्य शुरू करना हो, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में सिजेरियन प्रसव की व्यवस्था हो या जिला अस्पताल में सेवाओं में बढ़ोत्तरी हो, हर जगह स्टॉफ तथा भौतिक संसाधनों की व्यवस्था कर स्वास्थ्य सेवाओं को गति प्रदान की जा रही है। शासन की ओर से जिले में सेकंड एएनएम पद की भी व्यवस्था कर दी गई है। इसका उद्देश्य दूरस्थ पहुंचविहीन क्षेत्रों में स्टॉफ की व्यवस्था कर लोगों को आवश्यक जांच, उपचार व परामर्श की सेवा प्रदान करना है। इसके अलावा जिला अस्पताल में विशेषज्ञ चिकित्सकों व जिले भर में मेडिकल ऑफिसर्स की भर्ती की गई है, ताकि जिले में ही उच्च उपचार सुविधा भी उपलब्ध हो सके।

इस संबंध में पंडरिया के नवपदस्थ खंड चिकित्सा अधिकारी (बीएमओ) डॉ. स्वप्निल तिवारी ने बतायाः लोगों तक आसानी से स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाने की कवायद रंग लाने लगी है। भौगोलिक बाधाओं के बावजूद लोगों को स्वास्थ्य सेवा आसानी से व त्वरित रूप से मुहैया कराने के लिए किए जा रहे प्रयासों में स्वास्थ्य विभाग को बेहतर सफलता मिल रही है। स्वास्थ्य सेवा तुहंर दुआरी को चरितार्थ करने के लिए सीएमएचओ डॉ. मुखर्जी के मार्गदर्शन में जिले भर के चिन्हांकित पहुंचविहीन गांवों में स्वास्थ्य शिविर लगाकर लोगों को मौसमी बीमारियों से बचाने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं सेंदुरखार में सेकंड एएनएम के द्वारा हफ्ते भर में 3 सफल प्रसव करवाया जा चुका है।

संस्थागत प्रसव को बढ़ावा मिलेगा  सरपंच

विकासखंड सहसपुर लोहारा के धरमगढ़ और पंडरिया के सेंदुरखार, भाखुर आदि उपस्वास्थ्य केंद्रों में भी काफी सकारात्मक बदलाव किया गया है। ग्रामीण लंबे समय से इन केंद्रों के लिए स्टॉफ की मांग कर रहे थेए जिसके परिणामस्वरूप स्टॉफ की व्यवस्था की गई है। स्वास्थ्य सेवा में सुधार होने से उत्साहित अमनिया के सरपंच रतिराम भट्ट ने बतायाः भाखुर में स्टॉफ की व्यवस्था हो जाने से अब संस्थागत प्रसव को बढ़ावा मिलेगा। लगभग 4 वर्षों के बाद उपस्वास्थ्य केंद्र में प्रसव शुरू किया गया है। इससे पहले असामान्य स्थिति में स्वास्थ्य सेवाओं के लिए क्षेत्र के लोगों को कुकदूर जाना पड़ता था, लेकिन अब हालात बदल गए हैं और भाखुर में ही प्राथमिक सेवाएं मिल रही हैं।



Related News
thumb

कलेक्टर-एसपी ने कापू नाका चेकपोस्ट का किया निरीक्षण, स्टेटिक सर्विल...

लोकसभा निर्वाचन के मद्देनजर जिले में आवश्यक सुरक्षा व्यवस्था हेतु बॉर्डर चेक पोस्ट सहित सीमावर्ती क्षेत्रों में नाकाबंदी की व्यवस्था जिला एवं पुलिस...


thumb

मतदाता जागरूकता रैली के माध्यम से शत-प्रतिशत मतदान करने किया गया प्...

कलेक्टर व जिला निर्वाचन अधिकारी विलास भोस्कर के मार्गदर्शन तथा जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं स्वीप के नोडल अधिकारी नूतन कुमार कंवर के ...


thumb

जिले में मनाया गया राष्ट्रीय सुरक्षित मातृत्व दिवस

मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.एस.एन.केशरी के उपस्थिति में राष्ट्रीय सुरक्षित मातृत्व दिवस मनाया गया। इस अवसर पर कोरबा जिले के सभी विकासखण्ड...


thumb

मतदाता जागरूकता अभियान : कसईपाली में महिलाओं ने निकाली जागरूकता रैली

लोकसभा निर्वाचन 2024 के दौरान आमजनों में मतदान के प्रति जनजागरूकता लाने हेतु जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापक रूप से मतदाता जागरूकता अ...


thumb

बालको जोन में निकाली गई मतदाता जागरूकता रैली, मतदाताओं को दिलाई मतद...

कलेक्टर व जिला निर्वाचन अधिकारी अजीत वसंत के मार्गदर्शन में लोकसभा निर्वाचन 2024 के मद्देनजर मतदाता जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है तथा महिला, पुर...


thumb

परसाभाठा बालकों से बजरंग चौक तक सड़क चौड़ीकरण सर्वे के लिए दल का गठन

कलेक्टर अजीत वसंत ने परसाभाठा बालको से बजरंग चौक तक सड़क चौड़ीकरण सर्वे किए जाने एवं प्राक्कलन तैयार किए जाने हेतु दल का गठन किया है।