स्व-सहायता समूहों में बागबाहरा ब्लॉक के ग्राम मोहन्दी की जय मां भवानी स्व-सहायता समूह तीसरे नम्बर पर

Posted On:- 2022-07-28




महासमुंद (वीएनएस)। गोधन न्याय योजनांतर्गत गौठानों से जुड़े कम्पोस्ट उत्पादक महिला स्व-सहायता समूहों स्व-सहायता समूहों को प्रोत्साहन राशि मिली। ग्रामीण अंचल के टॉप-10 कम्पोस्ट उत्पादक स्व-सहायता समूहों में महासमुंद जिले के बागबाहरा ब्लॉक के ग्राम मोहन्दी की जय मां भवानी स्व-सहायता समूह तीसरे नम्बर पर है। इस महिला समूह को कम्पोस्ट उत्पादक के लिए  3 लाख 29 हजार 420 रुपये बोनस मिला। उन्हें जैविक खाद के विक्रय के एवज में मिलने वाले लाभांश के अतिरिक्त प्रति किलो एक रूपया की दर से यह अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि दी गयी। 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 28 जुलाई को मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में आयोजित हरेली तिहार के मौके पर राज्य के गौठानों से जुड़ी जैविक खाद उत्पादक महिला स्व-सहायता समूहों को प्रोत्साहन राशि (बोनस) का चेक वितरित किया और समूह की बहनों को बधाई और शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि समूह की महिला बहनों ने अपनी लगन और मेहनत से स्वावलंबन की एक नई मिसाल कायम की है। महिला बहनों की मेहनत का ही यह परिणाम है कि उन्हें जैविक खाद के विक्रय के एवज में मिलने वाले लाभांश के अतिरिक्त प्रति किलो एक रूपया की दर से यह अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि दी जा रही है। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर 7442 महिला स्व-सहायता समूहों को 17 करोड़ रुपये और सहकारी समितियों को 1.70 करोड़ की प्रोत्साहन राशि प्रदान की।

महासमुंद जिले के गोठनों में कलेक्टर निलेशकुमार क्षीरसागर और मुख्य कार्य्र‘लन अधिकारी जिला पंचायत एस. आलोक की सतत देखरेख में नियमित गोबर खरीदी और वर्मी कम्पोस्ट का उत्पादन  के साथ ही विक्रय किया जा रहा है। इसके अलावा मल्टीक्टिविटी के जरिए महिलायें अतिरिक्त आय कर रही है। दोनों अधिकारियों ने  मां भवानी समूह की महिलाओं को बधाई और शुभकामनाएं दी। कलेक्टर क्षीरसागर ने कहा कि यह महिला समूह जिÞले के अन्य महिला समूह को प्रेरित करने का काम करेगा। छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है, जो महिला समूहों को जैविक खाद के उत्पादन पर निर्धारित लाभांश के अलावा अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि बोनस भी दे रहा है। छत्तीसगढ़ सरकार की यह पहल महिला समूहों के आत्मबल को बढ़ाने और उन्हें आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ने में मददगार साबित होगी।




Related News
thumb

खरीफ फसलों का बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 जुलाई

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना मौसम खरीफ वर्ष 2024 के क्रियान्वयन हेतु फसल बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2024 निर्धारित की गई हैं। योजना में धान स...


thumb

स्पोकन इंग्लिश का पांच दिवसीय प्रशिक्षण शुरू

जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान धरमजयगढ़ तथा राज्य कार्यालय के निर्देशानुसार विकासखंड रायगढ़ की 205 प्राथमिक शालाओं के 100 शिक्षकों को स्पोकन इंग...


thumb

एक पेड़ मां के नाम : बच्चों ने किया वृक्षारोपण

स्कूली बच्चों को पर्यावरण संरक्षण से जोड़ने के लिए माध्यमिक शाला पतरापाली के विद्यालय परिसर में "एक पेड़ मां के नाम" अभियान के तहत बच्चों, शिक्षको...


thumb

विवादों को आगे बढ़ाने की बजाय सुलझाने का हो प्रयास : न्यायाधिपति गौत...

न्यायाधिपति गौतम भादुड़ी, न्यायाधीश, छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय बिलासपुर और कार्यपालक अध्यक्ष, छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर ने कोरबा में...


thumb

बी.एस.सी. नर्सिंग प्रवेश परीक्षा आज

छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मण्डल द्वारा रविवार 14 जुलाई 2024 को बी.एस.सी. नर्सिंग (B.Sc.N.) प्रवेश परीक्षा का आयोजन प्रदेश के 32 जिला मुख्यालयों म...


thumb

मुख्य न्यायाधिपति रमेश सिन्हा नेे नेशनल लोक अदालत के अवसर पर राज्य ...

छत्तीसगढ़ राज्य में आज द्वितीय नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस अवसर पर न्यायमूर्ति रमेश सिन्हा, मुख्य न्यायाधिपति छत्तीसगढ उच्च न्यायालय-सह- ...