गौमूत्र से जैविक खेती की मिलेगा प्रोत्साहन : कलेक्टर

Posted On:- 2022-07-28




हरेली पर्व पर जिले के दो गौठानो में गौमूत्र खरीदी प्रारंभ

सुकमा (वीएनएस)। हरेली तिहार के अवसर पर आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में कलेक्टर हरिस एस ने गौमूत्र की खरीदी का उद्देश्य और उपयोगिता की जानकारी देते हुए ग्रामीणों को बताया कि गोधन से निर्मित वर्मी खाद जिस प्रकार खेतों की उवर्रा क्षमता को बढ़ाता है, गौमूत्र से जीवामृत और ब्रम्हास्त्र जैसे जैविक कीट नियंत्रकों का निर्माण किया जाएगा, जो जैविक खेती को बढ़ावा देंगे। इन कीट नियंत्रकों में गौमूत्र के साथ पत्तियों, गोबर, गुड़ आदि का समावेश होगा। यह पूर्णत: जैविक होंगे। गौमूत्र से निर्मित उत्पादों को सी-मार्ट के माध्यम से विक्रय किया जाएगा। उन्होंने ग्रामीणों को शासन की इस नवीन योजना का लाभ लेने के लिए प्रोत्साहित किया।

जिला स्तरीय कार्यक्रम ग्राम गौठान चिकारास, चिपुरपाल में हुआ आयोजित : 

सुकमा जिले में हरेली तिहार का मुख्य कार्यक्रम ग्राम गौठान चिकारास, चिपुरपाल में आयोजित हुआ। जनप्रतिनिधियों, ग्रामीणों ने विधिवत कृषि उरपकरणों की पूजा अचर्ना की और सभी को बधाई दी। कार्यक्रम में शासन के निर्देशानुसार गौमूत्र की खरीदी की गई और कीट नियंत्रक भी तैयार किया गया। सरपंच चिकारास सोमाराम बघेल ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि गोबर के साथ ही अब गौमूत्र खरीदी से भी गऊ संवर्धन को बढ़ावा   मिलेगा। उन्होंने स्व सहायता समूह की महिलाओं के साथ ही सभी ग्रामीणों को गौमूत्र एकत्र कर गौठान पर विक्रय करने की अपील की। इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य राजू राम नाग, छिंदगढ़ जनपद अध्यक्ष देवली बाई नाग, उपाध्यक्ष नाजिम खान सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, सीईओ जिला पंचायत डीएन कश्यप, उपसंचालक पशुपालन विभाग डॉ. एस जहीरुद्दीन, सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग गणेश सोरी, उपसंचालक कृषि विभाग पीआर बघेल सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

कीट नियंत्रक बनाने की विधि का किया गया प्रदर्शन : 

इस हरेली त्योहार से शासन के निर्देशानुसार पशुपालकों से 4 रुपए प्रति लीटर में गौमूत्र की खरीदी की जायेगी, जिससे निमास्त, जीवामृत और ब्रह्मास्त्र जैसे जैविक कीट नियंत्रक बनाया जाएगा। सुकमा जिले में इस पायलट प्रोजेक्ट को चिपुरपाल व किकिरपाल गौठान में संचालित किया जाएगा। आज चिकारास ग्राम गौठान, चिपुरपाल में विधिवत गौमूत्र की अम्लीयता का परीक्षण कर खरीदी की गई। इसके पश्चात उपसंचालक, कृषि विभाग पी.आर बघेल, उपसंचालक पशुपालन विभाग एस. जहीरूद्दीन की ओर से कीट नियंत्रक बनाने का जीवंत प्रदर्शन किया गया और जीवामृत व ब्रम्हास्त्र तैयार किया गया। उन्होंने जनप्रतिनिधियों, स्व सहायता समूह की महिलाओं को गौमूत्र खरीदी, कीट नियंत्रक तैयार करने की पूरी विधि का प्रशिक्षण और उसके उपयोग के बारे में जानकारी प्रदान की।




Related News
thumb

निजात अभियान : 5 हजार लीटर अवैध शराब जब्त, 2 हजार से ज्यादा गिरफ्ता...

नशे के खिलाफ पुलिस का निजात अभियान जारी है। जिसके तहत कार्रवाई की जा रही है। अभियान के दौरान रायपुर पुलिस ने फरवरी से अब तक 2,339 मामलों के साथ 5,4...


thumb

सीएम साय महावीर जन्मकल्याणक महोत्सव में शामिल हुए, विभिन्न मंडलों क...

महावीर जन्म कल्याणक महोत्सव 2024 समिति द्वारा सकल जैन समाज एक साथ मिलकर 24 वे तीर्थंकर भगवान महावीर का जन्म महोत्सव बड़े धूम धाम से धार्मिक वातावरण...


thumb

हनुमान जन्मोत्सव पर सीएम हाउस में विशेष पूजा

सालों बाद मंगलवार को हनुमान जन्मोत्सव मनाया जा रहा है। इसके चलते श्रद्धालुओं में खासा उत्साह देखा जा रहा है। मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने भी मंगलवा...


thumb

अपने परिवारजनों का आशीर्वाद लेने आ रहा हूं : नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को दो दिवसीय दौरे पर रायपुर आ रहे हैं। यहां आने से पहले उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, राजस्थान के अलावा छग के...


thumb

रायपुर में हनुमान जयंती की धूम, मंदिरों में उमड़े हनुमान भक्‍त

चैत्र पूर्णिमा पर चित्रा नक्षत्र एवं सर्वार्थसिद्धि समेत अन्य योगों के संयोग में हनुमान जयंती श्रद्धा उल्लास से मनाई जाएगी


thumb

बीएसपी ने वृक्षारोपण कर मनाया विश्व पृथ्वी दिवस

भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा विश्व पृथ्वी दिवस के अवसर पर 22 अप्रैल, को टाउनशिप के सेक्टर-6 क्षेत्र में वृक्षारोपण किया गया।