मलेरिया व डेंगू से बचाव के लिए जागरूकता रथ को कलेक्टर ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

Posted On:- 2022-07-29




लोगों को जागरूक करने के लिए शहर के साथ ही जिले के 100 गांवों में पहुंचेगी जागरूकता वाहन

जगदलपुर (वीएनएस)। बस्तर जिले के कलेक्टर 29 जुलाई को डेंगू और मलेरिया से बचाव के लिए जागरुकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। गोदरेज -एम्बेड परियोजना फैमिली हेल्थ इंडिया कार्यक्रम के तहत संचालित यह जागरुकता रथ जगदलपुर नगर निगम क्षेत्र के साथ ही जिले के 100 गांवों में भी पहुंचेगी और लोगों को मलेरिया व डेंगू से बचाव के लिए जागरुक करेगी।

एम्बेड परियोजना का संचालन छत्तीसगढ़ राज्य के दो जिले बस्तर जिले के 100 गांवों और कोंडागांव जिले के 100 सबसे मलेरिया प्रभावित गांवों में नवंबर 2019 से गोदरेज और फैमिली हेल्थ इंडिया की ओर से स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर किया जा रहा है। एम्बेड परियोजना के माध्यम से लोगो के व्यवहार में मलेरिया से बचने के उपायों और उपचार के संबंध में जन जागरूकता लाने के साथ, समय पर मलेरिया की जांच, सम्पूर्ण इलाज और लोगों को मच्छरों से बचाव के लिए जागरुक किया जा रहा है। 

इसी कड़ी में एम्बेड - मलेरिया और डेंगू  प्रचार रथ को आज रवाना किया गया है, जिससे लोग जगदलपुर शहर और बस्तर जिले के गांवों में जागरूक होंगे और डेंगू और मलेरिया से बचाव और उपचार  के बारे में जानेंगे। एम्बेड मलेरिया और डेंगू प्रचार रथ जगदलपुर शहर में डेंगू के लिए लोगों को   माइकिंग के माध्यम से जागरूक करने के साथ बस्तर जिले के मलेरिया प्रभावित 100 ग्रामों में जाएगा तथा लोगों को मलेरिया से बचाव, इलाज कब और कहाँ ले, बुखार आने पर 24 घंटे में खून की जांच कराने, मलेरिया का पूरा उपचार लेने, कीटनाशक मच्छरदानी रोज लगाने, घर के आस पास साफ सफाई रखने, हर सात दिन में जमा पानी मे जला आयल या मिट्टी का तेल डालने आदि विषयो पर आॅडियो, माईकिंग के माध्यम से हिंदी, हल्बी और गोंडी भाषा मे लोगों को जागरूक करेगा, साथ ही डेंगू के लक्षण, डेंगू से बचने के लिए उपाय, डेंगू होने पर तुरंत इलाज लेने के लिए जगदलपुर शहर में लोगो को प्रेरित करने के साथ साथ, बस्तर जिले के दरभा, बास्तानार व लोहण्डीगुड़ा ब्लाक में जागरुकता संबंधी गतिविधियां आयोजित करेगा। 

इस दौरान जिले के मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डॉ आरके चतुर्वेदी, एम्बेड प्रोजेक्ट, फैमिली हेल्थ इण्डिया के जिला समन्वयक अवधेश सिंह, एम्बेड परियोजना के बीसीसीएफ, एम्बेड वालंटियर सहित अन्य लोग उपस्थित थे।




Related News
thumb

खरीफ फसलों का बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 जुलाई

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना मौसम खरीफ वर्ष 2024 के क्रियान्वयन हेतु फसल बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2024 निर्धारित की गई हैं। योजना में धान स...


thumb

स्पोकन इंग्लिश का पांच दिवसीय प्रशिक्षण शुरू

जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान धरमजयगढ़ तथा राज्य कार्यालय के निर्देशानुसार विकासखंड रायगढ़ की 205 प्राथमिक शालाओं के 100 शिक्षकों को स्पोकन इंग...


thumb

एक पेड़ मां के नाम : बच्चों ने किया वृक्षारोपण

स्कूली बच्चों को पर्यावरण संरक्षण से जोड़ने के लिए माध्यमिक शाला पतरापाली के विद्यालय परिसर में "एक पेड़ मां के नाम" अभियान के तहत बच्चों, शिक्षको...


thumb

विवादों को आगे बढ़ाने की बजाय सुलझाने का हो प्रयास : न्यायाधिपति गौत...

न्यायाधिपति गौतम भादुड़ी, न्यायाधीश, छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय बिलासपुर और कार्यपालक अध्यक्ष, छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर ने कोरबा में...


thumb

बी.एस.सी. नर्सिंग प्रवेश परीक्षा आज

छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मण्डल द्वारा रविवार 14 जुलाई 2024 को बी.एस.सी. नर्सिंग (B.Sc.N.) प्रवेश परीक्षा का आयोजन प्रदेश के 32 जिला मुख्यालयों म...


thumb

मुख्य न्यायाधिपति रमेश सिन्हा नेे नेशनल लोक अदालत के अवसर पर राज्य ...

छत्तीसगढ़ राज्य में आज द्वितीय नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस अवसर पर न्यायमूर्ति रमेश सिन्हा, मुख्य न्यायाधिपति छत्तीसगढ उच्च न्यायालय-सह- ...