घरघोड़ा भाजपा ने फूंका अधीर रंजन चौधरी का पुतला

Posted On:- 2022-07-30




राष्ट्रपति को अपमानित करने पर संसद से सड़क तक आन्दोलन

रायगढ़ (वीएनएस)। भारतीय जनता पार्टी द्वारा पूरे देश में कांग्रेस पार्टी के खिलाफ लामबंद होकर संसद से सड़क तक विरोध प्रदर्शन कर रही है। मामला राष्ट्रपति के सम्मान का है, बता दें वर्तमान में मानसून सत्र संचालित है। जिसमें नवनिर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का पद ग्रहण करने पर सदन के सदस्यों द्वारा बधाई दिया जा रहा था, जिसमें सदन के नेता विपक्ष अधीर रंजन चौधरी द्वारा सोनिया गांधी के ईडी द्वारा पूछताछ के विषय पर सरकार से तिखी प्रतिक्रिया करते हुए हमलावर हो गये। इस बहस में नवनिर्वाचित राष्ट्रपति के पद पर एनडीए द्वारा आदिवासी समुदाय के एक महिला को सर्वोच्च पद प्रदाय किये जाने वाले सवाल का जवाब अधीर रंजन चौधरी से निजी चैनल के पत्रकार ने किया तब अधीर रंजन ने सबकी राष्ट्रपत्नी कह कर भारत के सर्वोच्च संवैधानिक पद का अपमान किया। जबकि पत्रकार द्वारा बार-बार भूल सुधारने के लिए कहा जा रहा था, फिर अधीर रंजन ने दो बार जानबूझ कर राष्ट्रपत्नी शब्द का उपयोग किया गया। भाजपा अजजा मोर्चा के जिला मंत्री सोनू सिदार का कहना है, यह विषय अत्यंत दुखद है। हमारे देश के लिए जब कोई सांसद वो भी सदन का विपक्ष का नेता है, उनके द्वारा संविधान की सर्वोच्च पद की गरिमा को खंडित करने का प्रयास किया जा रहा है। यह कांग्रेस पार्टी की मानसिकता को उजागर करती है कि उनके मन में देश के प्रति क्या भावना है। कांग्रेस पार्टी कभी भी गरीब दलित आदिवासी कमजोर तबकों को अपने बराबर बैठाने का सोच भी नहीं सकती। यह इनकी मानसिकता है, जो पहले एक चाय वाला कह मज़ाक बनाया फिर एक झोला छाप धाधु योगी कर अपमानित किया। फिर आज एक निम्न वर्ग से संघर्ष कर आगे आने वाली आदिवासी महिला को राष्ट्रपति के रूप में पचा नहीं पा रही है, कांग्रेस पार्टी को यह बर्दाश्त नहीं हो रहा है। पहली बार कोई आदिवासी राष्ट्रपति बना है वो भी महिला जिस समुदाय को हमेशा दबा कुचला गया और सिर्फ वोट बैंक राजनीति कर ग़रीबी हटाओ के नारो से बरगल्ला कर जमीन हड़पने का कार्य करने वाली फुटडालो राज करो के मानसिकता वाले कांग्रेसी, आज अपने पैरों तले जमीन नहीं बचा पा रहें हैं, जिससे इनकी हालत खिस्यानी बिल्ली की तरह हो गई।

संसद से सड़क तक इनको लताड़ लगाई जा रही है। एक आदिवासी महिला के प्रति राष्ट्रपत्नी शब्द का उपयोग कर ५रे आदिवासी समाज को गाली देने का कार्य किया गया है। यह हिन्दुस्तान कभी बर्दाश्त नहीं करेगा। इस देश में सभ्य समाज इस तरह के शब्दों को स्वीकार कतई नहीं करता है, इस कारण संसद से सड़क तक विरोध प्रदर्शन हो रही है कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी व रंजन चौधरी को पुरे देश से माफी मांगनी चाहिए। आदिवासी समाज महिलाओं से माफी मांगते हुए अपने शब्दों को वापस लेकर सभ्यता का परिचय दे कांग्रेस पार्टी जब तक पुरे देश से माफी नहीं मांगा जाता तब तक विरोध प्रदर्शन होता रहेगा। आज सिर्फ पुतला दहन किया गया है आने वाले समय में आन्दोलन हड़ताल कर विरोध प्रदर्शन होगा यह कहना है भाजपा नेताओं का आज के इस पुतला कार्यक्रम में भारतीय जनता पार्टी अजजा मोर्चा के जिला मंत्री सोनू सिदार, युवा मोर्चा प्रदेश सदस्य विजय डनसेना, पुनम चौहान, नगर पंचायत अध्यक्ष विजय शिशु सिन्हा, मंडल महामंत्री राजेश पटेल, भाजयुमो मंडल अध्यक्ष रितेश शर्मा, अजजा मोर्चा मंडल अध्यक्ष समयनाथ मांझी, युवा मोर्चा महामंत्री राजेश महंत, उपाध्यक्ष मनोज निषाद, अजजा मंडल महामंत्री बच्चन राठिया, महिला मोर्चा महामंत्री श्रीमती सुमन चौधरी, मालिक राम डनसेना, युवा मोर्चा मंत्री गुरूमीत पोथिवाल, नरेश पोर्ते, अमन सिंह, कार्यक्रम में शामिल रहे।



Related News
thumb

खरीफ फसलों का बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 जुलाई

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना मौसम खरीफ वर्ष 2024 के क्रियान्वयन हेतु फसल बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2024 निर्धारित की गई हैं। योजना में धान स...


thumb

स्पोकन इंग्लिश का पांच दिवसीय प्रशिक्षण शुरू

जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान धरमजयगढ़ तथा राज्य कार्यालय के निर्देशानुसार विकासखंड रायगढ़ की 205 प्राथमिक शालाओं के 100 शिक्षकों को स्पोकन इंग...


thumb

एक पेड़ मां के नाम : बच्चों ने किया वृक्षारोपण

स्कूली बच्चों को पर्यावरण संरक्षण से जोड़ने के लिए माध्यमिक शाला पतरापाली के विद्यालय परिसर में "एक पेड़ मां के नाम" अभियान के तहत बच्चों, शिक्षको...


thumb

विवादों को आगे बढ़ाने की बजाय सुलझाने का हो प्रयास : न्यायाधिपति गौत...

न्यायाधिपति गौतम भादुड़ी, न्यायाधीश, छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय बिलासपुर और कार्यपालक अध्यक्ष, छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर ने कोरबा में...


thumb

बी.एस.सी. नर्सिंग प्रवेश परीक्षा आज

छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मण्डल द्वारा रविवार 14 जुलाई 2024 को बी.एस.सी. नर्सिंग (B.Sc.N.) प्रवेश परीक्षा का आयोजन प्रदेश के 32 जिला मुख्यालयों म...


thumb

मुख्य न्यायाधिपति रमेश सिन्हा नेे नेशनल लोक अदालत के अवसर पर राज्य ...

छत्तीसगढ़ राज्य में आज द्वितीय नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस अवसर पर न्यायमूर्ति रमेश सिन्हा, मुख्य न्यायाधिपति छत्तीसगढ उच्च न्यायालय-सह- ...