भारत ने ईरान में चाबहार बंदरगाह के संचालन के लिए किया 10 साल का करार

Posted On:- 2024-05-15




नई दिल्ली (वीएनएस )। भारत ने सोमवार को ईरान के दक्षिण-पूर्वी तट स्‍थित चाबहार बंदरगाह पर शाहिद बेहिश्ती टर्मिनल के विकास और संचालन के लिए ईरान के साथ 10 साल के अनुबंध पर हस्ताक्षर किए। ईरान में भारतीय दूतावास ने एक्स पर पोस्ट किया कि तेहरान में इंडिया पोर्ट्स ग्लोबल लिमिटेड (आईपीजीएल) और ईरान के बंदरगाह और समुद्री संगठन द्वारा केंद्रीय बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग मंत्री सर्बानंद सोनोवाल की मौजूदगी में अनुबंध पर हस्ताक्षर किए गए।

समझौते के तहत, सरकारी स्वामित्व वाली आईपीजीएल लगभग 120 मिलियन डॉलर का निवेश करेगी, जबकि वित्तपोषण में अतिरिक्त 250 मिलियन डॉलर होंगे, जिससे अनुबंध का मूल्य 370 मिलियन डॉलर हो जाएगा, ईरानी सड़क और शहरी विकास मंत्री मेहरदाद बजरपाश ने तेहरान में पत्रकारों को बताया।

समझौते पर सर्बानंद सोनोवाल की मौजूदगी में हस्ताक्षर किए गए, जो व्यस्त लोकसभा चुनाव अभियान के बीच इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम के लिए तेहरान गए थे। सोनोवाल ने कहा कि समझौते पर हस्ताक्षर के साथ दोनों देशों ने चाबहार में भारत की दीर्घकालिक भागीदारी की नींव रखी है।

नया समझौता 2016 में हस्ताक्षरित पहले के समझौते की जगह लेता है, जिससे भारत को चाबहार बंदरगाह में शहीद बेहिश्ती टर्मिनल को संचालित करने की अनुमति मिलती है, जिसे हर साल नवीनीकृत किया जाना था।

सोनोवाल ने समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद कहा कि चाबहार बंदरगाह का महत्व भारत और ईरान के बीच एक मात्र माध्यम के रूप में इसकी भूमिका से कहीं अधिक है। यह भारत को अफगानिस्तान और मध्य एशियाई देशों से जोड़ने वाली एक महत्वपूर्ण व्यापार धमनी के रूप में कार्य करता है।

सोनोवाल ने कहा कि इस अनुबंध पर हस्ताक्षर किए जाने से चाबहार बंदरगाह की व्यवहार्यता और दृश्यता पर कई गुना प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने कहा, चाबहार न केवल भारत का निकटतम ईरानी बंदरगाह है, बल्कि यह समुद्री दृष्टिकोण से भी एक उत्कृष्ट बंदरगाह है।

भारत ईरान, अफगानिस्तान, कजाकिस्तान और उज्बेकिस्तान जैसे देशों तक माल पहुंचाने के लिए चाबहार बंदरगाह पर एक टर्मिनल विकसित कर रहा है। ईरान के साथ नया समझौता पाकिस्तान में कराची और ग्वादर बंदरगाह को दरकिनार करते हुए ईरान के जरिए दक्षिण एशिया और मध्य एशिया के बीच एक व्यापार मार्ग खोलेगा।

इस बीच, विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने मुंबई में कहा कि यह समझौता बंदरगाह से बड़े निवेश और अधिक लिंकेज के लिए मार्ग प्रदान करेगा।



Related News
thumb

बेबी केयर सेंटर अग्निकांड : संचालक डॉ. नवीन को गिरफ्तार कर पुलिस कर...

शाहदरा जिला के विवेक विहार स्थित बेबी केयर न्यू बॉर्न अस्पताल में आग में झुलसकर सात मासूमों की मौत हो गई। पुलिस ने बेबी केयर सेंटर के संचालक डॉक्टर...


thumb

चक्रवात रेमल को लेकर बंगाल में हाई अलर्ट : एयरपोर्ट बंद, NDRF की 12...

बंगाल की खाड़ी में उत्पन्न हुआ चक्रवात 'रेमल' (Cyclone Remal) रविवार आधी रात को लैंडफाल करेगा। इसे लेकर बंगाल में हाई अलर्ट घोषित किया गया है। कोलक...


thumb

सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे का कार्यकाल एक महीने बढ़ा

सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे के कार्यकाल को एक महीना बढ़ा दिया गया है। कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने रविवार को जनरल पांडे के सेवा विस्तार को मंजूरी द...


thumb

राजकोट अग्निकांड : गेमिंग जोन के पास नहीं था फायर एनओसी, 6 पर FIR

राजकोट के टीआरपी गेमिंग जोन में लगी आग के मामले में अब तक 27 शव बरामद किए गए हैं। सिविल अस्पताल में मृतकों का डीएनए लिया गया है। राजकोट के पुलिस आय...


thumb

बाल कल्याण समिति ने गुमशुदा मूक-बधिर बालक को परिवार से मिलाया

किशोर न्याय (देखरेख एवं संरक्षण) अधिनियम, 2015 के अंतर्गत बाल कल्याण समिति बालकों के सर्वोत्तम हित में कार्य करतीं हैं। इसी कड़ी में तत्परता से जिल...


thumb

बस पर पलटा डंपर, 12 की मौत, 23 घायल...

यूपी के शाहजहांपुर जिले में शनिवार की भीषण सड़क हादसा हो गया। हादसे में 12 श्रद्धालुओं की मौत हो गई और 23 लोग घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्...