खाद्य सुरक्षा विभाग ने की खाद्य प्रतिष्ठानों की जांच

Posted On:- 2022-07-22




155 सैम्पलों की जांच में 13 अवमानक, 3 मिथ्या छाप एवं 2 असुरक्षित पाये गये

कोण्डागांव (वीएनएस)। वर्षा ऋतु में लगातार वर्षा एवं नमी के कारण उत्पन्न होने वाली डायरिया एवं हैजा जैसी बीमारियों को मद्देनजर रखते हुए कलेक्टर दीपक सोनी के निर्देश पर आमजनों को स्वस्थ एवं सुरक्षित खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने के उद्देश्य से खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा जिले के विभिन्न क्षेत्रों में चलित प्रयोगशाला के माध्यम से आकस्मिक निरीक्षण कर जांच की जा रही है। जिसके तहत् विगत 03 दिनों में खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा शामपुर एवं बड़ेडोंगर के साप्ताहिक बाजारों, कोण्डागांव चौपाटी स्थल एवं बस स्टैण्ड आदि स्थानों पर आकस्मिक निरीक्षण किया गया। जिसमें विभाग द्वारा 155 खाद्य नमूनों को एकत्रित कर चलित प्रयोगशाला में तुरंत उसकी जांच की गई। जिसमें 137 सैम्पलों को मानक, 13 को अवमानक, 03 नमूनों को मिथ्याछाप एवं 02 नमूने असुरक्षित पाये गये। जिसपर कार्यवाही करते हुए उन्हें तुरंत नष्ट कर दिया गया। इसी तरह चौक-चौराहों पर लगने वाले ठेलों, चाट एवं गुपचुप दुकानों से भी नमूने लेकर जांच की गई जिसमें सभी नमूने सहीं पाये गये।

बैलगांव एवं आलोर के स्कूलों में मध्यान्ह भोजन की हुई जांच
इस दौरान चलित प्रयोगशाला द्वारा बड़ेडोंगर के निकट माध्यमिक शाला बैलगांव एवं प्राथमिक शाला आलोर में पहुंच बच्चों को परोसे जाने वाले मध्यान्ह भोजन की भी जांच कर खाद्य सुरक्षा अधिकारी डोमेन्द्र धु्रव द्वारा भोजन का स्वाद भी लिया गया। जहां भोजन उपर्युक्त पाया गया। वहीं बड़ेडोंगर के एक किराना दुकान की जांच में बड़ी मात्रा में एक्सपायरी खाद्य सामग्रियां प्राप्त हुई। जिसे तत्काल अधिकारियों द्वारा नष्ट कराकर दुकानदार को नोटिस जारी करते हुए उसे कड़ी फटकार भी अधिकारियों द्वारा लगाई गई।

बस स्टैण्ड के 03 मिठाई दुकानों को नोटिस जारी
जांच में कोण्डागांव बस स्टैण्ड के मिठाई दुकानों की जांच में मिष्ठान निर्माण की तिथि अंकित नहीं होने पर अधिकारियों द्वारा 03 संचालकों को तलब कर नोटिस जारी किया गया तथा सभी से 03 दिवस के भीतर जवाब मांगा गया है साथ ही सभी ठेलों, गुपचुप दुकानों, रेस्टॉरेंटों एवं होटलों के संचालकों को अपने प्रतिष्ठानों में स्वच्छता बनाये रखने तथा मानक खाद्य सामग्रियों के उपयोग के भी निर्देश दिये गये। ज्ञात हो कि खाद्य औषधि विभाग द्वारा समय-समय पर चलित प्रयोगशाला के माध्यम से खाद्य सामग्रियों की जांच की जाती है साथ ही जन जागरूकता हेतु विभाग द्वारा खाद्य सामग्री के विक्रताओं से गुणवत्तायुक्त खाद्य सामग्री के उपयोग की अपील भी की गई है।



Related News
thumb

फूड प्वॉईजनिंग से नहीं, विषैले जीव के काटने से गई थी 3 लोगों की जान...

जिले के महाराणा प्रताप चौक स्थित सर्कस मैदान में लगे डिज्नीलैंड मेले में व्यापार करने आए तीन लोगों के मौत के मामले में नया खुलासा हुआ है। जांच के द...


thumb

दूसरे की जमीन को अपनी बताकर बेचा: तहसीलदार, डिप्टी रजिस्ट्रार, पटवा...

चांपा थाना क्षेत्र में एक संगठित आपराधिक षडयंत्र का खुलासा हुआ है, जिसमें हमनाम व्यक्ति को निजी जमीन का मालिक बताकर जमीन बिक्री की गई। इस मामले में...


thumb

किसान की बाड़ी में मिला मादा तेंदुए का शव, जांच में जुटा वन विभाग

दुगली वन परिक्षेत्र में एक किसान की बाड़ी में मादा तेंदुए का शव मिला है। तेंदुए की उम्र लगभग 3 वर्ष बताई जा रही है। ग्रामीणों की सूचना पर वन विभाग क...


thumb

कॉम्पटीशन की दुनिया में आगे बढ़ने का एकमात्र विकल्प शिक्षा की सीढ़ी...

युवाओं में जीवनोपयोगी संस्कारों का बीजारोपण करने एवं कैरियर संबंधी संभावनाओं को उजागर करने दिगंबर जैन समाज पंचायत सेवा समिति के तत्वावधान में आरंभ ...


thumb

डाक मतपत्रों की गिनती रिटर्निंग अधिकारियों के मुख्यालय जिलों में होगी

लोकसभा आम निर्वाचन-2024 के अंतर्गत मतगणना 4 जून को की जाएगी। मतगणना के दौरान ईवीएम में दर्ज वोटों के साथ ही डाक मतपत्रों की भी गणना की जाएगी। डाक म...


thumb

नक्सलियों के बंद को बीजापुर के जनमानस ने सिरे से नकारा

प्रतिबंधित माओवादी संगठन ने 26 मई को बंद का आह्वान किया था, जिसका असर बीजापुर जिले में नहीं पड़ा। जिले के नागरिकोंम व्यापारियों ने स्वस्फूर्त अपनी द...